Sunday, September 13, 2020

सीआईडी ऑफिसर कैसे बनते हैं 2020

सीआईडी ऑफिसर कैसे बनते हैं



सीआईडी और सीबीआई क्या होती है और दोनों में क्या फर्क होता हैसीआईडी ऑफिसर कैसे बनते हैं  उसके लिए कितनी एजुकेशन क्वालिफिकेशन होनी चाहिए और क्या एज होनी चाहिए और सीआईडी ऑफिसर की सैलरी कितनी होती है। तो चलिए शुरू करते हैं। आजकल हर कोई डॉक्टर या इंजीनियर बनना चाहता है लेकिन बहुत सारे ऐसे लोग भी हैं जो कुछ हटकर सोचते हैं


 यानि जो सीआईडी अफसर बनना चाहते हैं। सीआईडी ऑफिसर सीआईडी डिपार्टमेंट भारत सरकार के लिए डिटेक्टिव एजेंसी का काम करते हैं। बहुत सारे इस विज्ञान इस फील्ड में जाना चाहते हैं। इस फील्ड में जाने के लिए आपके पास ऐक्टिविटीज में तेज दिमाग और किसी भी काम को करने की और खोज निकालने की कैपिसिटी होनी चाहिए। अगर आप इस फील्ड में जाना चाहते हैं 

सीआईडी ऑफिसर कैसे बनते हैं



तो आपको बचपन से ही तैयारी करने चाहिए। कहने का मतलब ये है कि आज 10वीं क्लास से ही आपको इसकी तैयारी में लग जाना चाहिए। सीआईडी ऑफिसर बनना कोई आसान काम नहीं है लेकिन अगर आप सच्ची मेहनत करते हैं हार्डवर्क करते हैं तो ये नामुमकिन भी नहीं है। हमारे देश में बहुत सारे सीआईडी ऑफिसर्स हैं जो अपनी मेहनत और अपनी लगन से इस मुकाम तक पहुंचे हैं। सीआईडी असल में पुलिस का ही एक इंटेलिजेंस डिपार्टमेंट होता है जो गुप्त तरीकों से क्रिमिनल्स का पता लगाते हैं। चलिए हम बात करते हैं कि सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए क्या क्या क्वालिफिकेशन होने चाहिए। सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए


 सबसे पहले उम्मीदवार का इंडियन सिटिजन यानी भारतीय नागरिक होना बहुत जरूरी है। उम्मीदवार ने ट्वेल्थ यानि कम से कम इंटर पास कर रखा हो। अगर कोई उम्मीदवार सीआईडी की हाई पोस्ट पर जाना चाहता है तो उसके पास किसी भी मान्यताप्राप्त यूनिवर्सिटी से किसी भी स्ट्रीम में ग्रेजुएशन की डिग्री होना बहुत जरूरी है। यानी अगर आपके पास किसी भी मान्यताप्राप्त यूनिवर्सिटी से बीए की डिग्री है तब भी आप सीआईडी में हाई नहीं पर जा सकते हैं। सीआईडी के एग्जामिनेशन के लिए मेल और फीमेल दोनों अप्लाई कर सकते हैं।


 चलिए हम बात कर रहे हैं कि सीआईडी अफसर बनने के लिए आपकी एज कितनी होनी चाहिए। अगर आप जनरल कैटिगरी में आते हैं तो आपकी एज 20 से 27 साल के बीच में होने चाहिए और अगर आप ओबीसी कैटिगरी में आते हैं यानी अदर बैकवर्ड कैटिगरी में आते हैं तो फिर आपकी एक 20 से 30 साल के बीच में होनी चाहिए और अगर आप ऐसी या एसटी कैटिगरी में आते हैं तो फिर आपकी एज 20 से 32 साल के बीच में होनी चाहिए। चलिए हम बात करते हैं कि सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए उम्मीदवार कितनी बार आइटम कर सकता है। यानी अगर कोई उम्मीदवारी पर फेल हो जाता है तो वो कितनी बार कोशिश कर सकता है।


 अगर आप जनरल कैटिगरी में आते हैं तो आप चार बार कोशिश कर सकते हैं यानी अगर आप सीआईडी के एग्जामिनेशन देते हैं उसके बाद एक 12 फेल हो जाते हैं तो आप चार बार तक ट्राई कर सकते हैं लेकिन अगर आप ओबीसी कैटिगरी में आते हैं तो आप 7 बार तक कोशिश कर सकते हैं। और अगर आप ऐसी एसटी कैटिगरी में आते हैं तो कोई लिमिट नहीं है आप जितनी बार चाहें कोशिश कर सकते हैं। चलिए हम बात करते हैं कि सीआईडी ऑफिसर का सिलेक्शन कैसे होता है। सीआईडी अफसर बनने के लिए उम्मीदवार को बहुत ही ट्रैफिक नामिनेशन से गुजरना पड़ता है क्योंकि ड्यूटी का मतलब ही होता है गुप्तचर जासूस पता लगाने वाला आदमी। इसलिए एग्जाम में कुछ कुछ ऐसे अनसुलझे क्वेश्चंस भी आते हैं जिनका आज तक कोई जवाब ही नहीं दे 


पाया। सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए उम्मीदवारों का सिलेक्शन रिटन एग्जाम पर्सनल इंटरव्यू और फिजिकल इफेक्टिव टेस्ट के आधार पर किया जाता है। सबसे पहले उम्मीदवारों को एक रिटन एग्जाम देना होता है। उसके बाद फिजिकल टेस्ट पास करना होता है और इन दोनों एग्जामिनेशन को पास करने के बाद उम्मीदवारों का एक पर्सनल इंटरव्यू होता है। चलिए हम बात करते हैं कि सीआईडी एग्जामिनेशन का पैटर्न क्या होता है। सीआईडी एग्जामिनेशन हरसाल यूपीएससी और एसएससी बोर्ड द्वारा कंडक्ट कराया जाता है। सीआईडी एग्जामिनेशन क्वेश्चन पेपर को दो पार्ट में डिवाइड किया जाता है। पार्ट वन में टू हंड्रेड मार्क्स का एक्शन पेपर आता है जिसको सॉल्व करने के लिए आपको टू आवर्स का टाइम दिया जाता है। 



पाटों में फोर हंड्रेड मार्क्स का इक्वेशन पेपर आता है जिसको सॉल्व करने के लिए आपको फोर आवर्स का टाइम मिलता है। उसके बाद हंड्रेड मार्क्स का एक इंटरव्यू होता है। चलिए हम बात करते हैं कि सीआईडी ऑफिसर्स की सैलरी कितनी होती है। सीआईडी में जो लोग हैं उनमें से एसीपी न सिलेबस पढ़ लेता है। अभिजीत एक लेख पढ़ लेता है। दया तो एलेक्स पढ़ लेता है कि उसके दरवाजे भी धोने होते हैं और सीडी एलेक्स पढ़ लेता है तो ये तो नकली सीआईडी का हाल है लेकिन अगर हम ओरिजनल सीआईडी की बात करें तो ओरिजनल सीआईडी की सैलरी उनकी रैंक के आधार पर 24 से 40 हजार रुपए के बीच में होती है। 



चलिए हम बात करते हैं सीआईडी ऑफिसर्स की रैक्स के बारे में जिस तरह से पुलिस ऑफिसर्स में बहस होती है आईपीएस ऑफिसर्स में रैंक सोते हैं उसी तरह से सीआईडी ऑफिसर्स में भी रैंक होती है। इसमें सबसे पहले आता है कॉन्स्टेबल उसके बाद आता है असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर। उसके बाद सब इंस्पेक्टर उसके बाद इंस्पेक्टर उसके बाद डीएसपी उसके बाद एसीपी उसके बाद डीआईजी उसके बाद इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस यानी आईजीपी और उसके बाद आता है एडिशनल डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस यानी आई डीजीपी ये सीआईडी का सबसे बड़ा पद होता है। चलिए बात करते हैं कुछ उन टिप्स के बारे में कि अगर आप सीआईडी ऑफिसर बनना चाहते हैं तो आपको उनको फॉलो करना चाहिए। सीआईडी ऑफिसर का काम बहुत ही मुश्किल होता है। 


इसलिए अगर आप चाहते हैं सीआईडी ऑफिसर बनना तो आपको अपने आपको मजबूत बनाना होगा चाहे कैसे भी हालात आएं आपको टूटना नहीं है। सीआईडी ऑफिसर बनने के लिए आपको अपने दिमाग को बहुत तेज बनाना होगा। 24 घंटे आपको अपना दिमाग खुला रखना होगा। कहने का मतलब यह है कि 24 घंटे आपके दिमाग में आपके काम से रिलेटेड ही बातें चले चाहिए। कोई फालतू की बात उसमें नहीं चलनी चाहिए। अच्छी तैयारी इसीलिए आप सीआईडी से जुड़े हुए सीरियल्स भी देख सकते हैं।


 उनको देख करके आपकी तैयारी और अच्छी होगी। जैसे किसी डीसी रे लाता है आप उसको भी दे सकते हैं उससे भी आपको काफी हेल्प मिलेगी। अगर आप सीआईडी अफसर बनना चाहते हैं तो आपको अपने बोलने का तरीका बदलना होगा। आपको अपने। थोड़ा सा कड़क पन लाना होगा तभी आप एक सीआईडी अफसर लगेंगे। सीआईडी एग्जामिनेशन की तैयारी के लिए आपको अपने सीनियर्स के हैल्प लेनी चाहिए।


 यानी जो लोग प्यार जानते हैं कि उन्होंने सी मेडिकल एग्जामिनेशन दिया है चाहे वो सेल्फी वायरल आप उनकी हेल्प ले सकते हैं क्यूंकि वाकई इस मामले में काफी हेल्प कर सकते हैं। सुबह इलाज के इस वीडियो में आपने जाना कि सीएडी ऑफिसर बनने के लिए आपके पास क्या क्या क्वालिफिकेशन होनी चाहिए। क्या एज लिमिट होती है और सीआईडी की सैलरी जांच होती है।

No comments:

Post a Comment